रोज़ हम उदास होते है और शाम गुज़र जाती है,
एक दिन हम गुज़र जायेंगे और शाम उदास होगी

Create a poster for this message
Visits: 88
Download Our Android App