इन हसरतों को इतना भी क़ैद में न रख ए ज़िंदगी,
ये दिल भी थक चुका है इनकी ज़मानत कराते कराते

Create a poster for this message
Visits: 280
Download Our Android App