Type in Hindi
Click on poster to download HD version of wallpaper

Hindi Status Messages

चलिए साहब..कर्फ्यू के बहाने ही सही मुद्दतों बाद सब रिश्ते इकट्ठा तो हुए..✍.......Read full message

मुझे कहना नहीं आता तुम अब समझना सीख जाओ.......Read full message

ना हुआ हमसूस बेइंतिहा मोहब्बत जिसे सांसो की महक से क्या समझेगा वो हाल-ए-दिल एक गुलाब देने भर स.......Read full message

💞 नज़रों से ना देखो हमें.. तुम में हम छुप जायेंगे.. अपने दिल पर हाथ रखो तुम.. हम वही तुम्हें मिल जायेंगे..! .......Read full message

कुछ शब्द ही तो थे जिनसे जाना था तूने मुझे मैंने तुझे.......Read full message

सूना था मोहब्बत मिलती है मोहब्बत के बदले मगर हमारी बारी आए तो रिवाज़ ही बदल गया 👌.......Read full message

ये संग्दलों की दुनियां है यहाँ सभाल कर चलना यहाँ पलकों पे बिठाया जाता है नजरों से गिराने क लि.......Read full message

अजीब शक्श था वो जिंदगी बदल कर, खुद भी बदल गया…........Read full message

कुछ लोग आँसू की तरह होते हैं पता ही नहीं चलता साथ दे रहे हैं या साथ छोड़ रहे ह.......Read full message

“सोचने से कहाँ मिलते हैं ,तमन्नाओं के शहर.. चलने की जिद्द भी जरुरी है मंजिलों को पाने के लिये.......Read full message

एक पे एक मुफ्त ऐसा कहकर वो दर्द देकर चला गया.......Read full message

सुखी पत्तो की तरह बिखरी हुई थी मेरी ज़िन्दगी किसी ने समेटा भी तो सिर्फ जलiने के लिए. 💔💔(♣♠.......Read full message

बात बस इतनी सी थी उन्हे चाय पसंद थी और हमे चाय पिने वाले .......Read full message

कुछ रिश्ते इसलिए नहीं सुलझ पाते हैं क्योंकि लोग गैरो की बातों में आकर अपनों से उलझ जाते है.......Read full message

दिखाने के लिए ताे हम भी बना सकते है ताजमहल मगर मुमताज़ काे मरने दे हम वाे शाहजहाँ नही.......Read full message

बहुत ख़्वाब सज़ाए हमने अपने बचपन में जवानी की दौड़ में सब पीछे छुट गए!.......Read full message

हवा गुज़र गयी पत्ते थे कुछ हिले भी नहीं वो मेरे शहर में आये भी और मिले भी नहीं ये कैसा रिश्ता हुआ इश्क में वफ़ा का भला तमाम उम्र में दो चार गिले भी नहीं .......Read full message

गुमशुदा जिंदगी तो अपने लिये होती है जमाना तो यादों मे भी खुश रहता है .......Read full message

कितनी अजीब है इस शहर की तन्हाई भी, हजारों लोग हैं मगर कोई उस जैसा नहीं है।😘.......Read full message

इश्तिहार दे दो ये दिल खाली है वो जो आए थे किरायदार निकले..✍️.......Read full message

कभी कभी हम अपना कदम पीछे करके भी रेस में सबसे आगे बढ़ जाते हैं .......Read full message

सोंचते हैं गिरा दें सभी रिश्तों के खंडहर इन मकानों से किराया भी नहीं आता..✍.......Read full message

असफलता के समय आंसू पोछने वाली एक ऊँगली उन दस उँगलियों से अधिक महत्वपूर्ण है, जो सफलता के समय एक साथ ताली बजाती है !! 🙏🙏👍.......Read full message

शहर पूरा बंद हैं, हर गली में नाकाबंदी है..! तुम पता नहीं किन रास्तों से, चले आते हो ख़्यालों में........Read full message

घोंसले से प्यार था पर मुड़ के न देखा कभी या अलग ये दौर है या ये परिंदा और है।.......Read full message

शाखें रही तो फूल भी, पत्ते भी आएंगे, ये दिन अगर बुरे है, तो अच्छे भी आएंगे so always be positive and be happy 🌹.......Read full message

*ईश्वर की कुदरत का एक अंदाज़ निराला देखा,,* *आज पंछी खुले आसमान में उड़े , और घरों में कैद जमाऩा देखा,,,।* 🙏Good Morning🙏🏻.......Read full message

मैं तो सोच रहा था नशे का सामान लेने के लिए पर तेरी आँखें काफी हैं, मेरी जान लेने के लि.......Read full message

कभी पड़ोसी भी घर का हिस्सा हुआ करते थे आज एक ही घर में न जाने कितने पड़ोसी हैं.........Read full message

हाथों में हाथ दोस्तों का रहा ज़िन्दगी मर के भी जिंदा रही। .......Read full message

वो जब बिखरा तो हमने ये तमाशा देखा लोग गिरे हुए मकान की ईंटे तक के गए..✍️.......Read full message

तलाश कर अपने दिल में मेंरी कमी को अगर थोड़ा सा भी दर्द हूआ तो समझ लेना मोहब्बत अभी बाकी ह.......Read full message

💞 नज़रों से ना देखो हमें.. तुम में हम छुप जायेंगे.. अपने दिल पर हाथ रखो तुम.. हम वही तुम्हें मिल जायेंगे..! .......Read full message

कौन कहता है कि दूरियां हमेशा किलोमीटरों में नापी जाती हैं....!! कभी कभी "ख़ुद" से मिलने में भी "जिंदगी" गुज़र जाती है...........Read full message

राहों का ख़्याल है मुझे, मंज़िल का हिसाब नहीं रखता..!! अल्फ़ाज़ दिल से निकलते है,मैं कोई किताब नहीं रखता.........Read full message

बस एक बात पूछनी थी कि खुश तो हो न तुम।♥️♥️.......Read full message

हम भी कभी मुस्कुराया करते, उजाले में शोर मचाया करते थे, उस दिए ने मेरे हाथ को जला दिया, जिस दिए को हम हवा से बचाया करते थे।.......Read full message

समझने वाले ख़ामोशी भी समझ लेते हैं न समझने वाले जज़्बातों का भी मज़ाक बना देते है.......Read full message

माँ के लिए क्या लिखूं मैं, माँ की ही तो लिखावट हूँ मैं.......Read full message

किसी को मका हिस्से में आया, किसी को दुका आई। मैं घर में सबसे छोटा था, मेरे हिस्से में "मां" आई।। .......Read full message

काश मैं लौट पाऊं बचपन की उन वादियों में 💝 जहां न कोई जरूरत थी और न ही कोई जरूरी_था!! .......Read full message

जब तक दर्द गेहरा नही हो जाता कम्बखत दुनियावाले भी नजर अंदाज़ करते है .......Read full message

"लबों पे उसके कभी बद्दुआ नहीं होती बस एक माँ है जो कभी ख़फ़ा नहीं होती।".......Read full message

हर एक उस बन्दे ने कामयाबी पाई है , जिसने किताबों में अपनी जान लगायी है || .......Read full message

मुहब्बत के अगर 100 हिस्से किये जायें तो . . 99.9% की हक़दार माँ है...!.......Read full message

ऐ अंधकार देख ले मुंह तेरा काला हो गया मां ने आंखे खोल दी घर में उजाला हो गया .......Read full message

जो पढ़ा है उसे जीना ही मुमकिन नहीं इसीलिए ज़िन्दगी को मैं किताबों से दूर रखता हूँ..✍.......Read full message

"मैं हमदर्दी की खैरातों के सिक्के मोड़ देता हूँ, के जिस पर बोझ बन जाऊँ उसे मैं खुद ही छोड़ देता हूँ।".......Read full message

कुछ रहम कर जिंदगी थोड़ा सवर जाने दे 💔 💔💔 तेरा अगला जख्म भी सह लेंगे पहले वाला तो भर जाने दे💔 💔.......Read full message

इस दुनिया पे भरोसा कभी मत करना ये शहद दिखाकर ज़हर पिला देती है..💔.......Read full message

उमर जाया कर दी उसकी तलाश मै आखिर मिला तो भी मेरे ही दिल के किसी कोने .......Read full message

रोज़ पिलाता हूँ एक ज़हर का प्याला उसे वो दर्द जो दिल में है..मरता ही नहीं 💔.......Read full message

ये इश्क है ज़नाब इसे अधूरा ही रखिये पूरा हो गया तो भुला दिया जाएगा..💔.......Read full message

साथ रहने का वादा तो तूने ना निभाया,☹️ पर, अब हम तुमसे दूर रहने का वादा जरूर निभाएंगे☺.......Read full message

फर्क था हम दोनो की मोहब्बत मे मुझे उससे ही थी उसे मुझसे भी थी .......Read full message

कुछ कहानियां अक्सर अधूरी रह जाती हैं, कभी पन्ने कम पड़ जाते हैं कभी स्याही सूख जाती ह.......Read full message

जो फकीरी मिजाज रखते हैं वो ठोकरों में ताज रखते हैं, जिनको कल की फ़िक्र नहीं वो मुठ्ठी में आज रखते हैं।.......Read full message

जमाना तो बड़े शौक से सुन रहा था, हम ही रो पड़े दास्तां सुनाते सुनाते।।.......Read full message

सितारों में और इंसान में कोई फर्क नहीं होता दोनों ही किसी की ख़ुशी के लिए खुद को तोड़ लेते हैं..✍.......Read full message

ज़माने में आए हो तो जीने का हुनर रखना दुश्मनों से ख़तरा नहीं बस अपनों पे नज़र रखना..✍.......Read full message

सारे दोस्त एक जैसे नहीं होते, कुछ हमारे होकर भी हमारे नहीं होते, आपसे दोस्ती करने के बाद महसूस हुआ, कौन कहता है 'तारे ज़मीं पर' नहीं होते।👇👇👇♥️♥️♥️.......Read full message

दस्तक और आवाज तो कान के लिए है जो रूह को सुनाई दे उसे ख़ामोशी कहते है .......Read full message

"शक न कर मेरी हिम्मत पर, मैं ख़्वाब बुन लेता हूँ टूटे धागों को जोड़कर।" .......Read full message

सबूत हर एक बात का देना पड़ रहा है भरोसा वाकई बहुत बुरे दौर में आ पहुँचा है.......Read full message

पतझड़ में तो पत्ते गिरते है नज़रों से गिरने का कोई मौसम नहीं होता ❤️❤️.......Read full message

"बस इतना चाहिए तुझसे ए ज़िन्दगी कि ज़मीं पर बैठूँ तो लोग उसे बड़प्पन कहें, औक़ात नहीं।.......Read full message

हर इंसान दिल का बुरा नहीं होता.. बुझ जाता है दीपक अक्सर तेल की कमी केे कारण, हर बार कसूर हवा का नहीं होता..✍✍✍.......Read full message

मैंने महसूस किया है उस जलते हुए रावण का दुःख, जो सामने खड़ी भीड़ से बार-बार ये पूछ रहा था कि तुम में से कोई राम है क्या.....✍✍✍.......Read full message

ना खुद पर इतना इतराया कर ए दिल, उसे तो आदत है बेवजह मुस्कुराने की।.......Read full message

पसीने की स्याही से लिखे हुए पन्ने कभी कोरे नहीं हुआ करते, जो करते हैं मेहनत दर मेहनत उनके सपने कभी अधूरे नहीं रहते.......Read full message

हल्के हल्के बढ़ रही हैं चेहरे की लकीरें, लग रहा है जैसे नादानियों और तजुर्बों का बँटवारा हो रहा है.........Read full message

गीली लकड़ी सा इश्क़ है जो उसने सुलगाया है न पूरा बुझ पाया है न पूरा जल पाया है..✍.......Read full message

सालों का तजुर्बा तो नहीं मगर दावे से कहता हूँ अतीत का एक पन्ना ही काफ़ी होता है आँसू बहाने के लिए..✍.......Read full message

"जो हैरान हैं मेरे सब्र पर, उन से कह दो जो आंसू ज़मी पर नहीं गिरते, दिल चीर जाते हैं।.......Read full message

तेरी डिब्बे की वो दो रोटिया कही बिकती नहीं माँ मेंहगे होटलों में आज भी भूख मिटती नहीं........Read full message

उड़ा देती हैं नींदें कुछ जिम्मेदारीयाँ घर की, रात को जागने वाला हर शख्स आशिक नहीं होता...✍✍✍✍.......Read full message

करके हिम्मत धीरे - धीरे जख्मों को सी रहा हूँ, कल आज से बेहतर होगा इस उम्मीद पर जी रहा हूँ........✍️✍.......Read full message

आज सुबह से ही तेरा नाम होठों पे है आज सुबह से ही ज़ायका मीठा सा है .......Read full message

जिनके उपर जिम्मेदारीओ का बोझ होता है, उनको "रुठने" और "टूटने" का हक नही होता..!.......Read full message

गुरुर किस बात का करूं मैं मरने के बाद मेरे अपने ही मुझे छूने के बाद हाथ धोएंगे.......Read full message

रात भर चलती रहती हैं उंगलियां मोबाइल पर किताब सीने पे रख कर सोए हुए एक ज़माना हो गया.......Read full message

कुछ तो चाहत रही होगी इन बारिश की बूंदों की भी ... वरना कौन गिरता है इस जमीन पर आसमान तक पहुँचने के बाद ...........Read full message

ये ही खासियत है , जिंदगी की , कर्ज वो भी चुकाने पड़ते है , जो लिए ही नहीं।.......Read full message

खूबसूरत होना अच्छा नहीं ही बल्कि अच्छा होना खूबसूरत है || .......Read full message

कौन कहता हैं कि हम झूठ नहीं बोलते एक बार खैरियत तो पूछ के देखियें.......Read full message

मुझको पढ़ पाना हर किसी के लिए मुमकिन नहीं, मै वो किताब हूँ जिसमे शब्दों की जगह जज्बात लिखे है….!.......Read full message

दर्द - सा झलकता है आपकी आवाज़ में 💔... जैसे "लफ़्ज़ों" को इससे मायने मिल गए हों "ज़िंदगी" के ❤..........Read full message

बहुत अंदर तक जला देती हैं, वो शिकायते जो बया नहीं होती.......Read full message

मैं दिया हूँ मेरी दुश्मनी तो सिर्फ अँधेरे से हैं हवा तो बेवजह ही मेरे खिलाफ हैं.......Read full message

अच्छी किताबें और अच्छे लोग तुरंत समझ में नहीं आते हैं, उन्हें पढना पड़ता हैं.......Read full message

आज हर ख़ामोशी को मिटा देने का मन है जो भी छिपा रखा है मन में लूटा देने का मन है........Read full message

सुनो….ज़रा रास्ता तो बताना. मोहब्बत के सफ़र से, वापसी है मेरी.........Read full message

बहुत मुश्किल से करता हूँ, तेरी यादों का कारोबार, मुनाफा कम है, पर गुज़ारा हो ही जाता ह.......Read full message

लोग कहते हैं मेरी आँखें मेरी माँ सी हैं यूं तो लबरेज़ हैं पानी से मगर प्यासी है.......Read full message

तुझे पहचानूंगा कैसे? तुझे देखा ही नहीं ढूँढा करता हूं तुम्हें अपने चेहरे में ही कही.......Read full message

काई सी जम गई है आँखों पर सारा मंज़र हरा सा रहता है.......Read full message

कल का हर वाक़िआ तुम्हारा था आज की दास्ताँ हमारी है.......Read full message

शाम से आँख में नमी सी है आज फिर आप की कमी सी है.......Read full message

खुली किताब के सफ़्हे उलटते रहते हैं हवा चले न चले दिन पलटते रहते है.......Read full message

ज़मीं सा दूसरा कोई सख़ी कहाँ होगा ज़रा सा बीज उठा ले तो पेड़ देती है.......Read full message