सम्हाल के रखना अपनी पीठ को यारो,
शाबासी और खंजर दोनो वहीं पर मिलते है

Create a poster for this message
Visits: 433
Download Our Android App