मेरे दिल को भला यह बात भी कौन समझाए,की हंमेशा के लिए कोई भी ख़ुशी हरगिज नहीं मिलती है

Create a poster for this message
Visits: 110
Download Our Android App