मेरी तो ख़्वाहिश थी की मैं सबको रौशनी बाँटू,मगर ज़िन्दगी तूने बहुत जल्द बुझा दिया मुझको

Create a poster for this message
Visits: 90
Download Our Android App