कल मिला वक़्त तो ज़ुल्फ़ें तेरी सुलझा लूंगा आज उलझा हूँ ज़रा वक़्त के सुलझाने में..।।

Create a poster for this message
Visits: 122
Download Our Android App