चाँद की रौशनी में भी, ना जाने कैसा सरूर होता है || हम जिसे भी चाहते है , वो अक्सर हमसे दूर होता है ||

Create a poster for this message
Visits: 102
Download Our Android App