जगता रहा हूँ रातो में, बस खवाब देखना काम है || आँखों में है तस्वीर तेरी, मुझे दुनियाँ से क्या काम है ||

Create a poster for this message
Visits: 127
Download Our Android App