जब से मेरे सगाई हुई, नींद ने पलकों में आना छोड़ दिया || तनहा रहता हूँ मैं रातो में , तुमने ख्वाबो में आना छोड़ दिया ||

Create a poster for this message
Visits: 96
Download Our Android App