ये इश्क़ का जुआ हम भी खेल चुके हैं साहब रानी किसी और कि हुई जोकर हम बन गए...

Create a poster for this message
Visits: 323
Download Our Android App