शायद फिर वो तकदीर मिल जाये,
जीवन के वो हसीं पल मिल जायें,
चल फिर बैठे क्लास के लास्ट बैंच पे,
शायद फिर से वो पुराने दोस्त मिल जाये ।

Create a poster for this message
Visits: 305
Download Our Android App