See all posters in शायरी category
Click on poster to download HD version of wallpaper

List of Latest Hindi Shayari wallpaper



Status 1 - 50 of 487 Total

सारा का सारा ग़ुरूर यहीं रह जाएगा,
के ज़िंदगी साथ ले’कर कुछ नहीं जाती.......

मेरी कोशिश तो यही है कि ये मासूम रहे
और दिल है कि समझदार हुआ जाता है

दिलों में मतलब और ज़ुबान से प्यार करते हैं बहुत से लोग दुनिया में यही कारोबार करते हैं

इतना भी बेकार न समझो मुझे जनाब
कलाकार हूँ शब्दों से महफ़िलें सजाता हूँ

आज  ‪दरगाह में ‪मन्नत  का ‪‎धागा नहीं
 ‪अपना दिल  ‪‎बाँध  के ‪आया हूँ ‪तेरे लिए

तोड़ा कुछ इस अदा से तालुक़ उस ने ग़ालिब
कि सारी उम्र हम अपना क़सूर ढूँढ़ते रहे

ये नर्म मिजाज ही है कि फूल कुछ नही कहते
वरना कभी दिखलाइये कांटों को मसलकर

वो कर दिया तूने जो ना कर पाए हकीम भी
के तेरे छूने से अब मीठा हो गया है नीम भी

वक़्त का सितम तो देखिए
खुद गुज़र गया हमे वही छोड़ कर

दिल रोज सजता है नादान दुल्हन की तरह
और गम रोज चले आते हैं बाराती बन कर

जो दिखाई देता वो हमेशा सच नहीं होता
कही धोखे में आँखे है तो कही आँखों में धोखा है

लोग हर बार यही पूछते हैं तुमने उसमें क्या देखा
मैं हर बार यही कहता हूँ बेवजह होती है मोहब्बत

लोग हर बार यही पूछते हैं तुमने उसमें क्या देखा
मैं हर बार यही कहता हूँ बेवजह होती है मोहब्बत

इंसान अगर प्यार में पड़े तो ग़म में पड़ ही जाता है
क्योंकि प्यार किसी को चाहे जितना भी करो थोड़ा सा तो कम पड़ ही जाता है

आओ मिलकर मोहब्बत को आग लगा दे
की फिर ना तबाह हो किसी मासूम की जिन्दगी

वो दुश्मन बनकर मुझे जीतने निकले थे
दोस्ती कर लेते तो मैं खुद ही हार जाता

तेरी चाहत में रुसवा यूं सरे बाज़ार हो गये
हमने ही दिल खोया और हम ही गुनाहगार हो गये

तुम याद आओगे यकीन था
इतना आओगे अंदाज़ा नही था

वाह वाह बोलने की आदत डाल लो दोस्तों
मैं मोहब्बत में अपनी बरबादिया लिखने वाला हूँ

ये भी मुमकिन है कि तुम से भी वफ़ा हो जाए
ये भी अरकान ए मुहब्बत है अदा हो जाए

चलो उसका नही तो खुदा का एहसान लेते हैं
वो मिन्नत से ना माना तो मन्नत से मांग लेते हैं

ये न समझ कि मैं भूल गया हूँ तुझे तेरी खुशबू मेरे सांसो में आज भी है
मजबूरियों ने निभाने न दी मोहब्बत
सच्चाई मेरी वफाओं में आज भी है

छुपाने लगा हूँ आजकल कुछ राज अपने आप से
सुना है कुछ लोग मुझको मुझसे ज्यादा जानने लगे हैं

रोज साहिल से समंदर का नजारा न करो
अपनी सूरत को शबो-रोज निहारा न करो
आओ देखो मेरी नजरों में उतर कर खुद को
आइना हूँ मैं तेरा मुझसे किनारा न करो

मोहब्बत नाम है जिसका वो ऐसी क़ैद है यारों
कि उम्रें बीत जाती हैं सजा पूरी नहीं होती

राज़ खोल देते हैं नाजुक से इशारे अक्सर
कितनी खामोश मोहब्बत की जुबान होती है

इश्क ओर दोस्ती मेरे दो जहान है
इश्क मेरी रुह तो दोस्ती मेरा ईमान है
इश्क पर तो फिदा करदु अपनी पुरी जिंदगी
पर दोस्ती पर मेरा इश्क भी कुर्बान है

सारे शहर को इस बात की खबर हो गयी
क्यो ना सजा दे इस कमबख्त दिल को
दोस्ती का इरादा था और महोब्बत हो गयी

खुदा की रहमत में अर्जियाँ नहीं चलतीं
दिलों के खेल में खुदगर्जियाँ नहीं चलतीं
चल ही पड़े हैं तो ये जान लीजिए हुजुर
इश्क़ की राह में मनमर्जियाँ नहीं चलतीं

हर शख्स को दिवाना बना देता है इश्क
जन्नत की सैर करा देता है इश्क
दिल के मरीज हो तो कर लो महोब्बत
हर दिल को धड़कना सिखा देता है इश्क

साथ ना रहने से रिश्ते टूटा नहीं करते
वक़्त की धुंध से लम्हे टूटा नहीं करते
लोग कहते हैं कि मेरा सपना टूट गया
टूटी नींद है सपने टूटा नहीं करते

आग सूरज में होती है जलना ज़मीन को परता हैं
मोब्बत निगाहैं करती हैं तरपना दिल को परता हैं

रंजिश ही सही दिल को दुखाने के लिए आ
आ फिर से मुझे छोड़ जाने के लिए आ
कुछ तो मेरे इश्क़ का रहने दे भरम
तू भी तो कभी मुझे मनाने के लिए आ

कश्ती के मुसाफिर ने समन्दर नहीं देखा
आँखों को देखा पर दिल मे उतर कर नहीं देखा
पत्थर समझते है मेरे चाहने वाले मुझे
हम तो मोम है किसी ने छूकर नहीं देखा

रब से आपकी खुशीयां मांगते है
दुआओं में आपकी हंसी मांगते है
सोचते है आपसे क्या मांगे
चलो आपसे उम्र भर की मोहब्बत मांगते है

दिल ही दिल में तुम्हें प्यार करते हैं
चुप-चाप मोहब्बत का इजहार करते हैं
ये जानते हुए भी आप मेरी किस्मत में नहीं
पर पाने की कोशिश बार-बार करते है

चलो माना कि हमें प्यार का इज़हार करना नहीं आता
जज़्बात न समझ सको इतने नादान तो तुम भी नहीं

खुश नसीब होते हैं बादल
जो दूर रहकर भी ज़मीन पर बरसते हैं
और एक बदनसीब हम हैं
जो एक ही दुनिया में रहकर भी मिलने को तरसते हैं

आ जाओ किसी रोज़ तुम तो तुम्हारी रूह मे उतर जाऊँ
साथ रहूँ मैं तुम्हारे ना किसी और को नज़र आऊँ
चाहकर भी मुझे कोई छू ना सके मुझे कोई इस तरह
तुम कहो तो यूं तुम्हारी बाहों में बिखर जाऊँ

दिल से रोये मगर होंठो से मुस्कुरा बेठे
यूँ ही हम किसी से वफ़ा निभा बेठे
वो हमे एक लम्हा न दे पाए अपने प्यार का
और हम उनके लिये जिंदगी लुटा बेठे

कोई कहता है प्यार नशा बन जाता है
कोई कहता है प्यार सज़ा बन जाता है
पर प्यार करो अगर सच्चे दिल से
तो वो प्यार ही जीने की वजह बन जाता है

दिल में प्यार का आगाज हुआ करता है
बातें करने का अंदाज हुआ करता है
जब तक दिल को ठोकर नहीं लगती
सबको अपने प्यार पर नाज हुआ करता है

दिल से रोये मगर होंठो से मुस्कुरा बेठे
यूँ ही हम किसी से वफ़ा निभा बेठे
वो हमे एक लम्हा न दे पाए अपने प्यार का
और हम उनके लिये जिंदगी लुटा बेठे

न जिद है न कोई गुरूर है हमे
बस तुम्हे पाने का सुरूर है हमे
इश्क गुनाह है तो गलती की हमने
सजा जो भी हो मंजूर है हमे

छोड दो तन्हाई मे मुझको यारो
साथ मेरे रहकर क्या पाओगे
अगर हो गई आपको भी मोहब्बत कभी
मेरी तरह तुम भी पछताओगे

टूटे हुए दिलो की जरुरत बहुत हैं
वरना महफ़िल में रंग जमायेगा कौन
जब टूटेगा ही नहीं दिल किसी का
तो मयखाने में पीने आएगा कौन

बिखरी हुयी ज़िंदगी तमन्नाओ का ढेर होती हैं
अच्छी शायरी शब्दों का हेर फेर होती हैं
टुटा हुआ दिल गम का घर होता हैं
नाकाम आशिक़ ज़ार ज़ार रोता हैं
हम जो सोचे कहा सच में वो सच होता हैं

मेरी शायरी के हर अलफ़ाज़ में मैंने आपको सजाया
मेरी यादों के हर किस्से में मैंने आपको ही पाया
ख़ुशी हो या गम साथ आपने हर पल निभाया
रोशन हुयी ज़िन्दगी जब से सनम आपको बनाया

टूटे हुए सपनो और छुटे हुए अपनों ने मार दिया
वरना ख़ुशी खुद हमसे मुस्कुराना सिखने आया करती थी

हर बार हम पर इल्ज़ाम लगा देते हो मोहब्बत का
कभी खुद से भी पूछा है इतने हसीन क्यों हो

1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 Next >

Awesome Latest Hindi wallpaper to set as your Whatsapp and Facebook profile

Category

Punjabi Categories



Hindi Categories



English Categories